उत्तराखण्ड सरकार देगी सस्ता राशन, और फ्री 1000 रूपये


उत्तराखण्ड सरकार देगी सस्ता राशन, और फ्री 1000 रूपये


उत्तराखण्ड सरकार देगी सस्ता राशन, जाने कैसे मीलेगा सस्ता राशन 


उत्तराखंड में सस्ते गल्ले की दुकानों पर अब उपभोक्ताओं को गेहूं, चावल के अलावा अन्य सभी जरूरी सामान भी मिलेगा। सरकार ने राशन दुकानों पर साबुन, टूथपेस्ट, सरसों व रिफाइंड तेल, आयोडीन नमक, चाय पत्ती समेत ओआरएस, सेनेटरी नैपकिन बेचने की छूट दी है। शासन ने इस संबंध में बृहस्पतिवार को सभी जिलाधिकारियों को आदेश जारी किए हैं।
राज्य सरकार ने अप्रैल से प्रदेश के 23 लाख राशन कार्ड धारकों को तीन महीने का एकमुश्त गेहूं-चावल एडवांस में देने का निर्णय लिया है। अप्रैल के महीने के राशन के रूप में चार लाख कुंतल गेहूं-चावल सभी जिलों को दिया जा चुका है। बाकी राशन का इंतजाम 31 मार्च से पहले कर लिया जाएगा। कोरोना के खिलाफ लड़ाई लंबी चलने की संभावना को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है।
  •   13 लाख 30 हजार 404 परिवार हैं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत
  •  10 लाख 25 हजार 930 परिवार हैं राज्य खाद्य सुरक्षा योजना के दायरे में
  •  1.85 लाख कुंतल गेहूं और 2.30 लाख कुंतल चावल चाहिए हर महीने राज्य को
  •   10 लाख कुंतल है राज्य खाद्य विभाग की भंडारण क्षमता


30 हजार श्रमिकों के खाते में आए एक-एक हजार रुपये


कोरोना लॉक डाउन के दौरान जीवन यापन के लिए सरकार ने अब तक तीस हजार मजदूरों के खाते में एक-एक हजर रुपये जमा कर दिए हैं। सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक के अनुसार राज्य में रजिस्टर्ड श्रमिकों की संख्या तीन लाख के करीब है। सरकार इन सभी को तात्कालिक सहायता के लिए एक-एक हजार रुपये दे रही है। अब तक तीस हजार को लाभ दिया जाएगा। जल्द ही सभी तीन लाख श्रमिकों के खाते में पैसा आ जाएगा

Share via WhatsApp