राहुल गांधी इटली से कब लौटे?

rahul gandhi

राहुल गांधी इटली से कब लौटे?

29 फरवरी शनिवार के दिन राहुल गांधी जब इटली से वापस लौटे तो बीजेपी सांसद रमेश बिधूरी ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी का टेस्ट करवाने की मांग कर डाली संसद के निचले सदन में गुरुवार को बीजेपी सांसद ने कहा कि राहुल गांधी सिर्फ 6 दिन पहले लौटे हैं

 इसलिए उनकी जांच की जानी चाहिए कुरान वास कोरोना वायरस से प्रभावित तो नहीं है कहीं रमेश बिधूड़ी ने कहा सांसद सभी से मिलते हैं तो ऐसे में जो सांसद राहुल गांधी के साथ बैठते हैं उन सभी पर कोरोनावायरस कह सकता है पता चला है 

कि इटली से आई कई लोगों को कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया है इसलिए राहुल को भी अपना टेस्ट करवाना चाहिए और नतीजे के बारे में सांसद को बताना चाहिए 

वहीं चीन में उड़ना 12 से 31 लोगों की मौत हो गई है इसके बाद मरने वालों की संख्या 3000 से अधिक है कुल पृष्ठ मामलों की संख्या 80400 से ज्यादा है चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चौकशी में किसी भी तरह की कमी नहीं करने की अपील करते हुए कहा कि संक्रमण से सबसे बुरी तरह से प्रभावित मुहान में सकारात्मक प्रगति के बावजूद स्थिति गंभीर हुई है चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बृहस्पतिवार को कहा कि बुधवार को पुणे से 139 नए मामलों की पुष्टि हुई है.

राहुल गांधी ने ट्वीट  करके कहां

कोरोना वायरस हमारी नाजुक अर्थव्यवस्था पर एक कड़ा प्रहार है छोटे माध्यम कारोबारी और दिहाड़ी मजदूर इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हैं ताली बजाने से उन्हें मदद नहीं मिलेगी आज नगद मदद एक्स ब्रेक और कर्ज अदायगी पर रूप जैसे एक बड़े आर्थिक पैकेज की जरूरत है तुरंत कदम उठाएं.

वही आखिर देश ने फिर साबित कर दिया कि संकट के समय पूरा देश सारे मतभेद और झगड़े भूलकर एकजुट है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आवाहन और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा प्रधानमंत्री के कदमों का स्वागत और समर्थन देश की राजनीति में पिछले कुछ वर्षों से पक्ष विपक्ष के बीच जारी राजनीतिक कटुता और मिटाकर राष्ट्रीय संकट के समय राजनीति सहयोग की नई इबारत लिखने जैसा है 
सिर्फ सोनिया ही नहीं अब तक करुणा संक्रमण को लेकर सरकार को लगातार आड़े हाथों लेते रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों विशेषकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित आर्थिक पैकेज को सही दिशा में उठाया गया पहला कदम बताकर यह संदेश दिया है कि इस बार कांग्रेस पूरी और बालाकोट जैसी गलती नहीं करने वाली है.

कोरोना वायरस को लेकर देशभर में लोग लोकडाउन  घोषित किया जा चुका है इस बारे से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है पूरी दुनिया में 3:30 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं 

दुनिया भर में बड़े बड़े बिजनेसमैन और अरबपति कोरोना वायरस  से लड़ने के लिए अपने देश की सरकार की मदद कर रहे हैं इस बीच सोशल मीडिया पर खबर आई है कि कांग्रेस का नेता राहुल गांधी ने भी कोरोना  के लिए राहत कोष में 5 करोड़ की धनराशि दान की है.

राहुल गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र में सैनिटाइजर और मास्क बांटे सच्ची या झूठी खबर है इसका अनुमान अभी नहीं डाला जा सकता है.

हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि राहुल गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र में सैनिटाइजर और मास्क बाटे  हैं या नहीं  यह खबर कहीं अधिक तथ्यों से झूठी साबित हो सकती है लेकिन इसकी जांच पड़ताल अभी जारी है.

हालांकि अभी यह कहना वाजिब नहीं होगा कि बीजेपी लीडर कौन कोरोना के बारे में जानता था. इंडिया पब्लिक को राहुल गांधी से पहले सदर पहले जानते थे लेकिन अभी तक कोई प्रूफ नहीं मिला है कि पहले से बीजेपी या कांग्रेस इस मामले में जानते थे.