Children are being ruined by studying online

Online Study

अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने कहाऑनलाइन पढ़ाई से बच्चे हो रहे हैं बर्बाद

कोरोना के खतरे को देखते हुए बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाया जा रहा है

इस पढ़ाई का बच्चों की सेहत को बहुत बुरा असर पड़ रहा है

अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ का यह कहना है

शिक्षक संघ की ओर से केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री को लिखे पत्र में कहा गया है

कि प्राथमिक कक्षाओं के लिए ऑनलाइन पढ़ाई पर रोक लगाई जाए

अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने कहा कि विभिन्न माध्यम से 24 राज्यों के साथ ऑनलाइन पढ़ाई की स्थिति की

समीक्षा की गई इसमें यह पाया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में केवल 15 से 20 फ़ीसदी बच्चे ही ऑनलाइन पढ़ाई

का लाभ ले पा रहे हैं शहरी क्षेत्रों में 30 से 40 फ़ीसदी बच्चों लाभान्वित हो रहे हैं

अध्यक्ष रामपाल सिंह ने कहा ऑनलाइन पढ़ाई का बच्चों की मानसिक और स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है

प्राथमिक कक्षाओं के लिए ऑनलाइन पढ़ाई पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए


SFI Sends Memorandum to MHRD: अध्यापकों के बीच भ्रम की स्थिति बनी हुई है

इसके स्थान पर 8 से 10 बच्चों का ग्रुप बनाकर बच्चों को पढ़ाया जाना चाहिए

शिक्षक संघ की ओर से कहा गया है कि जिन स्कूलों के क्वारंटीन सेंटर बनाया गया था

उन्हें सैनिटाइज किया जाए वही स्कूल खोलने से पहले वहां सुविधाएं दी जाएं

संघ के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह ने कहा उत्तराखंड में प्राथमिक कक्षाओं में ऑनलाइन पढ़ाई नहीं हो पा रही है

इसकी वजह यह है कि बच्चों के पास इसके लिए संसाधन नहीं है

उन्होंने कहा कि ऑनलाइन पढ़ाई से बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है

hnbgu application form 2020 : कॉलेजों में 12वीं के बाद एडमिशन शुरू


Ignou Admission 2020 B.A,B.Sc, And Others Programs Registration Start