कर रहे है ऑनलाइन शॉपिंग तो हो जाओ सावधान : आपके बैंक बेलेन्स पर है नजर

 

Online Shopping Faurd

दीपवाली का त्यौहार हो या घरेलु आम सामान की खरीददारी के लिए आज का युवा और सभी लोग ऑनलाइन शॉपिंग का उपयोग जरूर करता है। 

अगर आप भी ऑनलाइन सामान खरीदने के अदि हे तो आपको सावधान होना बेहद ही जरुरी हे, आपके खाते से कब आपके पैसे गायब हो जायेंगे आपको हवा तक नहीं लगेगी। आपके बैंक बेलेन्स पर है नजर.

जब भी आप ऑनलाइन शॉपिंग करे आपको खास बातो का ध्यान रखना बेहद ही जरुरी हे क्युकी ईकॉमर्स वेबसाइट के जरिये हैकर आपको नए जाल में फसाएँगे। 

आपके बैंक बैलन्स कब दूसरे के हाथ चढ़ जायेगा आपको कुछ अंदाजा भी नहीं लगेगा बाजारों में घूमकर शॉपिंग करने की बजाय लोग अब एक क्लिक पर खरीदारी करने में ज्यादा इंटरेस्ट दिखा रहे हैं 

लेकिन जितनी सुविधाजनक की शॉपिंग नजर आती है उसमें कई बार आप को मुश्किल में डाल सकती है साइबरक्रिमिनल कई ई-कॉमर्स साइट की आड़ में एक साइड बनाकर लोगों को चूना लगाते हैं.

ऐसे में ऑनलाइन शॉपिंग करते समय ई-कॉमर्स साइट को बारीकी से गौर से एक और पूरी डिटेल पता कर के ही शॉपिंग करनी चाहिए

अगर आपको ज्यादा ही बंपर ऑफर वाले विज्ञापन दिखते हैं या फिर अधिक लुभावने आकर्षक ऑफर का झांसा बताया जा रहा है तो सावधान रहें।

आप जब किसी ईकॉमर्स साइट से ऑनलाइन शॉपपिंग करते हो तो आपको बाजार के मुकाबले सस्ते दामों पर सामान मिल भी जाता हे लेकिन इस बात की कोई गारंटी नहीं वो नया हे या पुराना। 

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट आपको पुराने सामान डम्प पड़े मॉल को बेचने के लिए उसे चमका धमका के पेस किया जाता हे ताकि आपको पसंद आये और आप उनके लुभावने झांसे में फस जाओ। 

हालाँकि आपको यह बेहद्द ही सुभिदा जनक लगता हे, और काफी सुभिदाये आपको मिलती भी हे लेकिन आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना बेहद जरुरी होता हे। 

की जो साइट से आप ऑनलाइन शॉपिंग कर रहे हो वो एक जेन्युइन साइट हो अगर नहीं हे तो आपको यहाँ बेहद ही नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। 

अधिकांश वेबसाइट आपका डेटा कलेक्ट कर उसे डार्क वेब पर हैकर्स को बेचते है,  जैसे आपका क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, CVV, आदि जानकारिया आपसे लेकर उनका दुरुपयोग किया जाता है। 

अगली बार जब आप शॉपिंग करो तो इस बात का ध्यान रखे ज्यादा से ज्यादा कैश ऑन डेल्वेरी से ही सामान मंगवाए ये आपको सेफ रखेगा। 

ऑनलाइन शॉपिंग से धोखादड़ी 

क्रेडिट कार्ड धोखाधड़ी - व्यापारियों को बेवकूफ बनाने का सबसे आसान तरीका। ऑनलाइन शॉपिंग के लिए स्कैमर्स चोरी किए गए क्रेडिट कार्ड विवरण का उपयोग करते हैं। बाद में, मूल कार्ड मालिक खर्चों की प्रतिपूर्ति के लिए मांग कर सकते हैं। 

दोस्ताना धोखाधड़ी का आपके दोस्तों के साथ दुर्भाग्य से कोई लेना-देना नहीं है। यह तब होता है जब कोई ग्राहक सामान या सेवाओं का आदेश देता है, उनके लिए भुगतान करता है और फिर, अचानक या सबसे अधिक संभावना है, उसके दिमाग को बदल देता है। 

वह दावा करता है कि उसका क्रेडिट कार्ड चोरी हो गया है और खरीदे गए माल को प्राप्त करने के बाद जानबूझकर चार्जबैक शुरू करता है।  


पहचान की चोरी करने के लिए , ई-कॉमर्स धोखाधड़ी के सबसे सामान्य प्रकारों में से एक, एक उपयोगकर्ता झूठे नाम और एक चोरी किए गए क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके ऑनलाइन खरीद करता है। 

गंदे साबुन की तरह साफ-सुथरी धोखाधड़ी मुझे लगती है, क्योंकि इसमें कुछ भी साफ नहीं है। इस प्रकार की धोखाधड़ी में आमतौर पर धोखाधड़ी का पता लगाने वाली प्रणालियों का गहन विश्लेषण, बड़ा चोरी करने से पहले कार्ड परीक्षण करना और सही मालिक के बारे में बहुत कुछ ज्ञान शामिल होता है। और स्वच्छ धोखाधड़ी का पता लगाना सबसे आसान काम नहीं है।

एक और व्यापक रूप से वितरित ई-कॉमर्स धोखाधड़ी का प्रकार सहबद्ध धोखाधड़ी है , जिसे संबद्ध प्रोग्राम से अधिक धन प्राप्त करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह अक्सर ट्रैफ़िक या साइनअप आँकड़ों से छेड़छाड़ करने से जुड़ा होता है।  

त्रिकोणीय धोखाधड़ी को अंजाम दिया जाता है, जैसा कि नाम से पता चलता है, तीन चरणों में। सबसे पहले, अपराधी क्रेडिट कार्ड डेटा और व्यक्तिगत जानकारी एकत्र करने के लिए एक नकली स्टोरफ्रंट बनाते हैं।

 दूसरे, इस डेटा का उपयोग वास्तविक उत्पादों को ऑर्डर करने और उन्हें मूल कार्ड मालिकों को शिपिंग करने के लिए किया जाता है। अंत में, अतिरिक्त खरीद के लिए उसी जानकारी का उपयोग किया जाता है।  

कार्ड नहीं वर्तमान (CNP) धोखाधड़ी ऑनलाइन या फोन पर किए गए सभी धोखाधड़ी लेनदेन के बारे में है जब एक व्यापारी व्यक्तिगत रूप से संभावित धोखाधड़ी (यानी लापता होलोग्राम) के संकेतों के लिए चोरी किए गए क्रेडिट कार्ड की जांच नहीं कर सकता है।

रिफंड धोखाधड़ी एक ओवरपेमेंट के साथ जुड़ा हुआ है, जो आमतौर पर उद्देश्य से बनाया गया है। इस क्रेडिट कार्ड को बंद करने का दावा करते हुए, मालिक वैकल्पिक भुगतान विधियों का उपयोग करके पैसे भेजने के लिए कहता है।