क्या होगा जब एक गर्भवती महिला फ्लाइट में बच्चे को जन्म दे क्या होगी उसकी बर्थ सीटी

 

क्या होगा जब एक गर्भवती महिला फ्लाइट में बच्चे को जन्म दे

आपको यह बता दू की अगर कोई 7 महीने के ऊपर गर्भवती महिला हे तो उसको किसी भी प्रकार की यात्रा के लिए अनुमति नहीं है।  किसी स्पेशल केस में अगर अनुमति मिल भी जाती हे तो महिला के लिए उचित जरुरी इंतेजाम किये जाते है।

 इसके उपरांत जब गर्भवती महिला हवाई यात्रा कर रही हो और उसको  फ्लाइट में ही बच्चा पैदा हो जाता है तो ऐसे केस में उसको कहाँ की नागरिकता मिलेगा
 

सर्व प्रथम आपको ये देखना होगा की उस समय यात्रा का स्थान कोनसा हे और हवाई जहाज़ किस क्षेत्र में उड़ रहा है, जब आपको जगह  चल जाये तो  आपको यह साबित करना होगा की वह क्षेत्र इस चीज़ की परमिशन देता है या नहीं,वह स्थान अगर अनुमति  देता है तो आप उस स्थान का नाम लिख सकते हैं।

अगर आपको अनुमति नहीं मिलती तो आपको यह देखना होगा की हम किस जगह / देश के हवाई जहाज़ से यात्रा कर रहें हैं, हमें उस जन्म प्रमाण पत्र में वही स्थान लिखना होगा या हम जिस गंतव्य पर जा रहे है उसका नाम लिख सकते है। 

ऐसे में आपको दूसरे देश की नागरिकता भी मिल सकती है अगर हम भारत की बात करें तो 26 जनवरी, 1950 के बाद भारत में जन्मा कोई भी व्यक्ति 'जन्म से भारत का नागरिक' है

 इसी के एक प्रावधान के अन्दर 1 जुलाई 1987 के बाद भारत में जन्मा कोई भी बच्चा उसको भारत की नागरिकता प्राप्त होती है।  इसके लिए बच्चे माता या पिता दोनों एक कोई भारत का नागरिक होना चाहिए।
 

अगर मान लो रूस में बच्चा पैदा होता हे तो बच्चे के माता पिता को रूस की नागरिकता प्राप्त करने के लिए लैंग्वेज टेस्ट पास करना होगा।

 रूस की नागरिकता को रूसी संघ के वर्ष 2002 के संघीय अधिनियम द्वारा नियंत्रित किया जाता है। रूस का नागरिक बनने के लिए आपको टैक्स भरना होगा। आपको रूसी नागरिकता प्राप्त करने के लिए रूसी सीखने और लैंग्वेज टेस्ट पास करना होगा।