यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव में १ लाइन का मतलब या २ लाइन का मतलब जानिए यहाँ

सायद ही आपको पत्ता होगा की यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव कैसे दिखता है और यदि प्रेगनेंसी टेस्ट में १ लाइन का मतलब भी आपको पत्ता नहीं है साथ में प्रेगनेंसी टेस्ट में २ लाइन का मतलब आप जानना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही जगह हैं आपके लिए पूरी जानकारी हिंदी में हम यहाँ लेकर आये हैं तो चलिए जानते हैं इसके बारे में। 

यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव
यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव

आपको यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव देखें के लिए एचसीजी मूत्र परीक्षण एक गुणात्मक परीक्षण है, जिसका अर्थ है कि यह आपको बताएगा कि यह आपके मूत्र में एचसीजी हार्मोन का पता लगाता है या नहीं। इसका उद्देश्य हार्मोन के विशिष्ट स्तरों को प्रकट करना नहीं है। आपके मूत्र में एचसीजी की उपस्थिति गर्भावस्था का एक सकारात्मक संकेत माना जाता है। हर दो से तीन दिनों में इस हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है. होम प्रेगनेंसी किट यूरिन में इसी हार्मोन की मौजूदगी का पता लगाकर प्रेगनेंसी को कन्फर्म करती है. यदि हार्मोन मौजूद नहीं होता तो प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आता है और यदि हार्मोन यूरिन में मौजूद होता है, तो प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव हो जाता है.

प्रेगनेंसी टेस्ट में १ लाइन का मतलब

प्रेगनेंसी टेस्ट में १ लाइन का मतलब होता हैं की 1 पिंक लाइन- अगर टेस्ट किट में सिर्फ 1 पिंक लाइन दिख रही है इसका मतलब है कि टेस्ट नेगेटिव है और आप प्रेग्नेंट नहीं हैं। 2 पिंक लाइन- अगर टेस्ट किट में 2 पिंक लाइन दिख रही है यानी आप टेस्ट पॉजिटिव है और प्रेग्नेंट हैं। अगर लाइन का कलर हल्का पिंक है तब भी आप खुद को प्रेग्नेंट मान सकती हैं। यानि की होम प्रेगनेंसी टेस्ट किट में एक हल्की लाइन का मतलब आप गर्भवती हैं यदि कोई महिला घर पर गर्भावस्था परीक्षण करती है और परिणाम एक हल्की पॉजिटिव लाइन दिखाई देती है, तो इस बात की अधिक संभावना होती है कि वह महिला गर्भवती हो.

प्रेगनेंसी टेस्ट में २ लाइन का मतलब

जैसा की ऊपर बता ही चुके हैं प्रेगनेंसी टेस्ट में २ लाइन का मतलब क्या होता है लेकिन आपको बता दें कि प्रेगा न्यूज या अन्य किसी भी प्रेगनेंसी टेस्ट किट में टेस्ट के दौरान हल्की गुलाबी लाइन आये तो इसका मतलब आपने प्रेगनेंसी किट का इस्तेमाल समय से पहले कर लिया है। या फिर आपके शरीर में HCG हार्मोन का उत्पादन जरूरत के मुताबिक नहीं हो पा रहा हो।

Share social media

मेरे सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार, में काफी वर्षों से पत्रकारिता में कार्य कर रहा हूं और मैंने अपनी पढ़ाई भी मास्टर जर्नलिश्म से पुरी किया है। मुझे लिखना और नए तथ्यों को खोज करना पसन्द है। मुझे नई जानकारी के लिए न्यूज पेपर की अवश्यकता नहीं पड़ती में खुद इनफॉर्मेशन हासिल करने में रुचि रखता हूं। साथ ही वेबसाईट बनाना, seo, जैसी स्किल में महारथ हासिल है।

error: Content is protected !!