Maxx cure hospital : देहरादून में हुआ मैक्सक्योर हॉस्पिटल का उद्घाटन,  मेयर गामा पहुंचे समारोह में 

मैक्सक्योर हॉस्पिटल ( Maxx cure hospital ) : देहरादून ओम विहार, माता मंदिर रोड पर मैक्सक्योर हॉस्पिटल का उद्घाटन समारोह मनाया गया जिसमें वहां के मुख्य अतिथि देहरादून मेयर सुनील उनियाल गामा, उमेश शर्मा काऊ, खजान दास, विनोद चमोली, सुप्रसिद्ध गायक गजेंद्र राणा, वीरेंद्र कटारिया , लालचंद शर्मा जी ने उद्घाटन किया।

ओम विहार माता मंदिर रोड देहरादून में स्थित मैक्सक्योर हॉस्पिटल के संस्थापक श्री सुरेंद्र गुप्ता जी हैं तथा उनकी धर्मपत्नी सारिका गुप्ता जी है सुरेंद्र गुप्ता जी ने अपने शब्दों में कहा कि हमारा यह अस्पताल अत्याधुनिक तकनीकों से लैस है यहां पर सभी डॉक्टर अपने क्षेत्र में एक्सपर्ट है और हमने यहां पर सभी पोस्ट ग्रेजुएट डॉक्टरों को ही लिया है जिनमें से डॉ श्वेता गुप्ता स्त्री रोग विशेषज्ञ है और डॉक्टर जूही फिजीशियन तथा डॉक्टर प्रदीप सिंघल पेट रोग विशेषज्ञ हैं एवं डॉ संजीव कुमार छाती रोग विशेषज्ञ व डॉक्टर संजीव गुप्ता मूत्र रोग विशेषज्ञ है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मैक्सक्योर हॉस्पिटल

मैक्सक्योर हॉस्पिटल में अत्याधुनिक तकनीकों से किया जाता है इलाज

सुरेंद्र गुप्ता जी ने कहा कि हमारा यह हॉस्पिटल आधुनिक तकनीकों के साथ अत्याधुनिक मशीनों से भी लैस है जिसमें हर विशेषज्ञ अपने अपने क्षेत्र में महारत हासिल है मैक्सक्योर हॉस्पिटल में आपको स्त्री रोग , ह्रदय रोग,  छाती रोग, दंत रोग, मूत्र रोग आदि का इलाज किफायती दामों में एवं बेहतरीन इलाज पर मिलेगा इस हॉस्पिटल का उद्देश्य समाज सेवा करना है एवं यह हॉस्पिटल आपको कई सारी नई सुविधाएं भी प्रदान करेगा।

मूत्र रोग के लिए मैक्सक्योर है बेहतर अस्पताल

मूत्र रोग एक व्यापक शब्द है जिसका अर्थ होता है किसी भी प्रकार की मूत्र सम्बंधित समस्या जो किसी व्यक्ति के मूत्र तंत्र में हो सकती है। यह समस्याएं किसी भी उम्र और लिंग के व्यक्ति में हो सकती हैं।

मूत्र रोग कई तरह के हो सकते हैं जैसे कि पेशाब करने में दर्द, पेशाब करने के दौरान खून आना, बार-बार पेशाब आना, मूत्र की समस्या आदि। इन समस्याओं का कारण विभिन्न हो सकता है, जैसे कि इन्फेक्शन, स्टोन, प्रोस्टेट की समस्या, या और कुछ गंभीर बीमारियां।

यदि आपको मूत्र सम्बंधित किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आपको मैक्सक्योर हॉस्पिटल में डॉक्टर संजीव गुप्ता मिलना चाहिए जो आपकी समस्या का सही निदान करेंगे और उचित उपचार सुझाएंगे।

यह भी पढ़ें : जान लो पीरियड में मेंस्ट्रुअल कप के नुकसान व फायदे और कैसे यूज़ करें गलती न करें 

स्त्री रोग के लिए मैक्सक्योर हॉस्पिटल

स्त्री रोग महिलाओं के स्वास्थ्य सम्बंधित विभिन्न समस्याओं को संक्षेप में दर्शाता है। यह समस्याएं महिलाओं के जीवन के विभिन्न चरणों में हो सकती हैं और उन्हें निम्नलिखित कुछ समस्याओं के तहत वर्गीकृत किया जा सकता है।

1. गर्भावस्था संबंधित समस्याएं

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं जैसे कि गर्भावस्था के दौरान कठिनाईयां, उल्टी, दस्त, गर्भावस्था में उच्च रक्तचाप, आदि।

2. महिलाओं की हॉर्मोनल समस्याएं

हॉर्मोनल असंतुलन विभिन्न चरमों पर हो सकता है, जिससे पीरियड्स में अनियमितता, गर्भाशय संबंधित समस्याएं, और प्रजनन तंत्र सम्बंधित समस्याएं हो सकती हैं।

3. स्त्री संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं

महिलाओं को स्तन संबंधित समस्याएं, ओवेरियन सिस्ट, गर्भाशय संबंधित समस्याएं, और श्वेत प्रदर (वाइट डिस्चार्ज) जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

4. महिलाओं की संजीवनी समस्याएं

पीरियड्स से संबंधित दर्द, जीवन की विभिन्न चरणों में विकार, गर्भावस्था के दौरान उत्पन्न होने वाली समस्याएं, और मेनोपॉज संबंधित समस्याएं भी महिलाओं को प्रभावित कर सकती हैं।

यदि आपको स्त्री रोग के संबंध में किसी विशेष समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आपको मैक्सक्योर हॉस्पिटल में डॉक्टर स्वेता गुप्ता से मिलना चाहिए जो आपकी समस्या का सही निदान करेंगे और उचित उपचार सुझाएंगे।

छाती रोग के लिए बेस्ट है मैक्सक्योर हॉस्पिटल

छाती रोग जो हृदय (दिल) और प्लेउरा (फुफ्फुस की खाली जगह) के संबंध में समस्याएं दर्शाता है। यह रोग छाती क्षेत्र में दर्द, तनाव, ठीक से सांस न लेने की समस्या, और फिसलने की भावना जैसे लक्षणों से पहचाना जा सकता है। छाती रोग कुछ विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं, जिनमें सबसे आम रूप से देखे जाने वाले रोग निम्नलिखित हो सकते हैं:

1. दिल की बीमारियाँ

हृदय संबंधित समस्याएं जैसे कि हृदय अटैक, दिल का दौरा, रसोई के उपचार विकल्प, और हृदयमंडली के रोग छाती रोग के उदाहरण हैं।

2. फुफ्फुस संबंधित समस्याएं

फुफ्फुस में संक्रमण, फुफ्फुस में समस्याएं जैसे कि प्लेयरोपनिया, और फुफ्फुस में अन्य विकार छाती रोग के उदाहरण हो सकते हैं।

3. श्वासनली संबंधित समस्याएं

श्वासनली के रोग जैसे कि दमा (अस्थमा), श्वसन की बंदी (ब्रोंकोन्स्ट्रिक्शन), और श्वसन की समस्याएं भी छाती रोग के अंतर्गत आते हैं।

यदि आपको छाती सम्बंधित किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आपको मैक्सक्योर हॉस्पिटल में डॉक्टर संजीव कुमार से मिलना चाहिए जो आपकी समस्या का सही निदान करेंगे और उचित उपचार सुझाएंगे।

Share social media

मेरे सभी पाठकों को मेरा प्यार भरा नमस्कार, में काफी वर्षों से पत्रकारिता में कार्य कर रहा हूं और मैंने अपनी पढ़ाई भी मास्टर जर्नलिश्म से पुरी किया है। मुझे लिखना और नए तथ्यों को खोज करना पसन्द है। मुझे नई जानकारी के लिए न्यूज पेपर की अवश्यकता नहीं पड़ती में खुद इनफॉर्मेशन हासिल करने में रुचि रखता हूं। साथ ही वेबसाईट बनाना, seo, जैसी स्किल में महारथ हासिल है।

error: Content is protected !!